युवक ने पकड़ा अजगर,देखने उमड़ी लोगो की भीड़ !

3751

बनमा-ईटहरी प्रखंड में पकड़े गये सांप बना चर्चा का विषय

सहरसा/सिमरी बख्तियारपुर (ब्रजेश भारती) : अनुमंडल के बनमा-ईटहरी प्रखंड के घौड़दोर गांव में एक साहसी युवक ने एक अजगर सांप को पकड़ा है।लगभग 10 फीट लम्बा और करीब 20 किलो वजनी यह अजगर लोगो के बीच चर्चा का विषय बन गया है। जिसे देखो इस सांप के संबंध में बाते करते और देखने को चल देते है। वही उस साहसी युवक गुफरान आलम की भी ताऱिफ करते है उसने अजगर जैसे सांप को पकड़ अपने घर में रखा है।koshixpress

इस सांप के पकड़े जाने के संबंध में बताया जाता है कि शुक्रवार दोपहर पुरैनी गांव में बड़ी नहर के निकट यह अजगर एक घर के दिवार पर दिखा।अजगर को देखने व मारने के लिए भीड़ जुट गई।कुछ ग्रामीण इस अजगर पर पत्थरबाजी,लाठी डंडा आदि चलाने लगे तभी बगल से गुजर रहे लक्ष्मीनियां निवासी मो इरफान आलम के पुत्र मो गुफरान आलम की नजर भी वहां लगी भीड़ पर पड़ने के बाद वह वहां देखने गया उसकी नजर अजगर पर पड़ी उसने लोगो से अजगर को बचाते हुए उसे सावधानी पूर्वक पकड़ लिया और सांप को लेकर धौड़दौर गांव स्थित अपने ननिहाल आ गया। पकड़े जाने के बाद अजगर फिलहाल उसी युवक के पास ही है उसने कहा जल्द ही इसे वन विभाग को सौंप दिया जायेगा।koshixpress

वही सांप के संबंध में जानकारी रखने वालो से पुछा गया तो इन लोगो का कहना था कि आमतौर पर इतने वजन और लंबाई वाले अजगर आसानी से नहीं मिलते है। इस अनुमंडल क्षेत्र में अजगर सांप का मिलना सोचनीय बात है और यह कोई पहला घटना नही है इससे पूर्व भी सिमरी बख्तियारपुर स्टेशन से समीप यह सांप मिला था उसके बाद भी कई अन्य जगहों से इस सांप को मिलने की खबर आ रही है। इस पर वन विभाग को पड़ताल करनी चाहिये।koshixpress

वही पुरैनी के आसपास के ग्रामीणों ने बताया कि बीते कुछ दिन से बतखें गायब हो रही थीं, पहले यही समझा जा रहा था कि बतख कही चले जाते है, लेकिन कुछ दिनपूर्व इस अजगर को बतख खाते देखा, तो पता लगा कि चोर कोई ओर नहीं, यह अजगर ही है.इधर, इस अजगर को पकड़ने वाले मो गुफरान ने बताया कि पशुओं को बचाना हर किसी की जिम्मेवारी है, मै इसे वन विभाग को सौंपना चाहता हूँ। इस संबंध में सहरसा वन विभाग के डिवीजनल फॉरेस्ट ऑफिसर ने बताया कि वन विभाग की टीम को सिमरी बख्तियारपुर अजगर लेने के लिए भेजा जा रहा है।