प्रसव पीड़िता ने सड़क पर जना बच्चा,अस्पताल ने कर दिया रेफर !

2891

आधी रात को चढ़ावा नही दिये जाने कर दी गई प्रसव महिला को रेफर,परिजनों ने अस्पताल में किया बवाल

सहरसा/सिमरी बख्तियारपुर (ब्रजेश भारती) : अनुमंडलीय अस्पताल रेफर अस्पताल के रूप में हमेशा सुर्खियों में रहा है। मंगलवार की रात्रि एक प्रसव पीड़ीत महिला को परिजनों के द्वारा नर्सो को चढ़ावा नही दिया तो आधी रात को ही रेफर कर दिया। रेफर किये जाने के बाद अस्पताल से कुछ दुरी पर अन्य जगह ले जाने के क्रम में सड़क पर ही उक्त महिला ने एक स्वस्थ बच्चे को जन्म दे दिया। उसके बाद परिजनो ने महिला को पुन: अस्पताल में भर्ती कराने गया तो अस्पताल कर्मीयों ने भर्ती करने से इंकार कर दिया जिसके बाद परिजनों ने अस्पताल प्रबंधन पर मनमानी का आरोप लगाते हुए जमकर हंगामा किया।

इस संबंध में महिला को परिजनो ने अनुमंडल पदाधिकारी को आवेदन देकर कारवाई की मांग की है.वहीं दिये आवेदन में पीड़ित महिला के चाचा शैनी टोला निवासी सदानंद ठाकुर ने कहा कि मैंने प्रसव पीड़ा के बाद अपनी भतीजी ज्योति देवी को मंगलवार की रात करीब दस बजे  सिमरी बख्तियारपुर अस्पताल में भर्ती कराया, मध्य रात्री में प्रसव पीड़ा बढ़ने पर नर्स कक्ष में सोई नर्सो को उठाया और जिसपर नर्सो के द्वारा पांच सौ रूपये की मांग किया पर हमने देने से इंकार कर दिया जिसपर उनलोगो ने मेरी भतीजी को रेफर करवा दिया और जैसे ही सहरसा के लिए रवाना हुआ, कुछ ही दूरी पर ही प्रसव पीड़ा बढ़ गया.तत्पश्चात कुछ ही मिनट में बच्चे का जन्म हो गया.जब हम अस्पताल लौट कर मौजूद चिकित्सक को मरीज को भर्ती करने को कहे तो उन्होंने भर्ती करने से इंकार कर दिया|

वही घटना के बाद से अस्पताल के कुप्रबंधन के खिलाफ राजनीतिक पारा चढ़ गया है.भाजपा नेता रितेश रंजन, भाजपा नगर अध्यक्ष संजीव भगत आदि ने घटना में लापरवाही बरतने वाले नर्सो और डॉक्टर पर कार्यवाई की मांग की है|वही घटना के सम्बन्ध में सब डिवीजनल ऑफिसर सुमन प्रसाद साह ने बताया कि दिये गये आवेदन की जांच पड़ताल कर दोषी पाये जाने पर कर्मीयों पर कारवाई की जायेगी।