500-1000 नोट प्रचलन के बंद की धोषणा से अफरा तफरी का माहौल !

2580

पेट्रोल पंप व रेलवे टिकट काउन्टर पर लोग उलझते देखे गये

सहरसा/सिमरी बख्तियारपुर : मंगलवार देर शाम जैसे ही प्रधाननंत्री नरेन्द्र मोदी ने पांच सौ व हजार रूपये के नोट के प्रचलन पर रोक की धोषणा की अनुमंडल क्षेत्र के तीनों प्रखंडो में आमजनों के बीच यह चर्चा का विषय बन गया |हर कोई एक दुसरे से नोट के प्रचलन पर पुछताछ करते नजर आये। जैसे ही लोगो को मालूम हुआ की पेट्रोल पंप,रेलवे टिकट काउन्टर आदि सहित देश के सार्वजनिज क्षेत्र से जुड़े संस्थानों में वुधवार व गुरूवार तक पांच सौ व हजार के नोट का चलन होगा वैसे ही वुधवार की सुबह से ही विभिन्न पेट्रोल पंपों पर तेल लेने वालो की भीड़ उमड़ पड़ी |हलांकि ये भीड़ ज्यादा देर तक नही रही क्योकि पंप पर खुल्ले ही खत्म हो गये । छुट्टे के अभाव में पांच सौ या हजार के नोट देने पर पुरे रूपये के पेट्रोल या डीजल लेना पड़ा।koshixpress

रेल टिकट काउंटर पर भी अफरा-तफरी 

वही नोट पर पाबंदी को लेकर दिन भर अफरा तफरी का माहौल बना रहा कुछ लोग केंद्र सरकार इस कदम को बेहतरीन कदम बता रहे है तो कुछ इसे बिना तैयारी के फैसले की संज्ञा दे रहे है। बुधवार सुबह पूर्व मध्य रेलवे अंतर्गत सहरसा-मानसी रेलखंड के सिमरी बख्तियारपुर स्टेशन पर रेल टिकट काउंटर पर पांच सौ रूपये के नोट नही लेने पर आक्रोशित यात्रियों ने हंगामा किया।हंगामा कर रहे यात्री सुबोध, मो शाहिद, शमशेर, मो मुमताज आलम, ललन शर्मा, मंटुन यादव, विकास आदि ने बताया कि टिकट काउंटर पर पांच सौ का नोट नही लिया जा रहा जिससे परेशानी हो रही है और ट्रेन छोड़ने तक की नौबत आ रही है.वही इस सम्बन्ध में सिमरी बख्तियारपुर स्टेशन अधीक्षक दिलीप विश्वास ने बताया कि वे ड्यूटी पर नही है, खुदरा नही है जिस कारण परेशानी हुई होंगी।

बैकों ने पुलिस बल की मांग 

अनुमंडल क्षेत्र के विभिन्न बैकों ने स्थानिय थानों से पुलिस बल की मांग की है। थानों को भेजे पत्र में मैनेजरों का कहना है की चुकिं लोगो के बीच नोट जमा करने की होड़ हो सकती है इसलिये संभावित भीड़ को देखते हुये 10 व 11 नवम्बर को बैंको को कम से कम तीन की संख्या में पुलिस बल उपल्बध कराया जाय।