भू माफियों के कब्जे में रिकॉर्ड रूम,सजती है दुकानें !

3258

राजीव कुमार झा : बिहार के सहरसा भू माफियों ने सरकारी जमीन को तो बेच ही डाला है ।अधिकारी अपने सरकारी कार्यालय में कागजात पे कोई लगाम नहीं पा रही है ,जिले के तीन कार्यालय जहाँ आम जन के कागजात सुरक्षित है वहां के कागजात पर अब भू माफिया की नजर पड़ गयी है |koshixpressमालूम हो की सब से दुखद पहलु ये है कि जिस कार्यालय में जिला पदाधिकारी जैसे लोग रहते है वहीँ बगल के कार्यालय रेकार्ड रूम में सहरसा,सुपौल,मधेपुरा,सहित पूर्णिया प्रमंडल,आदि जगह के कागजात है । सहरसा के रेकार्ड रूम अबैध मुंशी और भू माफिया के कब्जे में हैं। koshixpressअगर समय रहते जिला प्रशासन इन अबैध मुंशी भू माफिया पे रोक नहीं लगाई तो वो दिन दूर नहीं जब सरकार के यहाँ से सुरक्षित कागजात चपत हो जायेगा। जब भी जिला प्रशासन इन पे कार्यवाई करती है दो चार दिन मामला गरम रहता है और अतिक्रमण कारी की तरह पुनः भू माफिया और अबैध मुंशी सरकार के सुरक्षित जमीन के कागजात को कब्जे में ले लेते है। सगज जिला प्रशासन इस के लिए कितने अति संबेदंशील है ये तो बक्त ही बतायेगा।