हत्यारोपी की गिरफ्तारी नहीं होने पर बढ़ा जनाक्रोश !

2532

मृतक के परिजनों को व्याहुत संघ के द्वारा 21 हजार रूप्ये की सहायता दी गई
सहरसा/सिमरी बख्तियारपुर (ब्रजेश भारती) : अनुमंडल के बनमा ईटहरी प्रखण्ड अन्तर्गत गत 30 नवंबर को अपराधियों द्वारा आलू व्यवसायी कृष्ण कुमार के हत्यारोपी को अबतक पुलिस गिरफ्तार नहीं कर सकी है। घटना के एक सप्ताह बीत जाने के बाद भी हत्यारोपी की गिरफतारी नहीं होने से आम लोगों में आक्रोश देखा जा रहा है।koshixpress

बुधवार को सिमरी बख्तियारपुर व्यापार संघ के सदस्यों ने मृतक कृष्ण कुमार के घर जाकर परिजनों से मिल सांत्वना दी और वहीं इस संबंध में एक बैठक का आयोजन ग्रामीणों के साथ कर प्रशासन के द्वारा अबतक हत्यारोपी को गिरफतार नहीं करने पर रोष व्यक्त करते हुए अविलम्ब हत्यारोपी की गिरफतारी की मांग की।koshixpress

बैठक को संबोधित करते हुए श्रवण कुमार भगत, विवेक कुमार, वकील गुप्ता, संजय पोद्दार, विरेन्द्र भगत, शंकर भगत आदि ने कहा कि अबतक हत्यारोपी की गिरफतारी नहीं होना बहुत दुख की बात है। स्थानीय प्रशासन अगर एक सप्ताह के अंदर हत्यारोपी को नहीं दबोचती है तो हमलोग उग्र आंदोलन को बाध्य होंगें। इनलोगों का कहना था कि नीतिश के सुशासन में व्यापारियों को निशाना बनाया जा रहा है और अपराधकर्मी खुले आम घुम रहें हैं। जो सही नहीं है। बैठक के उपरांत आपसी सहयोग से मृतक कृष्ण कुमार के परिजनों को 21 हजार रूप्ये सहायता राशि प्रदान की गई।

बताते चले कि सोनवर्षाराज से 30 नवम्बर को आलू का बीज लेकर घर जाने के क्रम में अपराधियों ने कैंजरी गांव निवासी कृष्ण कुमार नामक युवक की हत्या गोली मार कर दी थी। इस अवसर पर इन्दल यादव, प्रमोद भगत, सुधीर भगत, संजीव भगत, सुभाष भगत, रवि, परशुराम यादव, विलास यादव, पवन यादव, आदि शामिल थे।