औका बौका तीन चरौका एवं बोले तो मस्त नाटक का मंचन के साथ दो दिवसीय कोशी नाट्य महोत्सव सम्पन्न !

5165

महोत्सव के दूसरे दिन मधेपुरा व नवहट्टा के रंगकर्मीयों की रही सफल प्रस्तुति

सहरसा : साहित्यकार डॉ मनोरंजन झा की 70 वीं जयंती समारोह के मौके पर पंचकोसी सांस्कृतिक मंच द्वारा आयोजित दो दिवसीय कोशी नाट्य महोत्सव का मंगलवार देर रात सम्पन्न हो गया ।koshixpress

महोत्सव के दूसरे दिन मधेपुरा नवाचार रंग मंडल द्वारा प्रस्तुत नाटक औका बौका तीन चरौका लोक कथा पर आधारित इस नाटक ने दर्शकों का भरपूर मनोरंजन करने में सफल रहा । लोक कथाओं से ली गयी कहानी पर आधारित इस नाटक की प्रस्तुति ने पुरे नाटक में दर्शकों को बार बार हंसते हंसाते लोट पोट करने पर विवश करती रही।मिथुन कुमार गुप्ता द्वारा लिखित व नाट्य रूपांतरित इस नाटक के निर्देशक अमित आंनद ने नाटक को बरे ही खुबसूरत से सजाने संवारने में सफल दिखे ।koshixpress

नाटक की कहानी में पांच सगे भाइयों की कहानी को दिखाने का काम किया है । पांचो भाई गांव के बेकार व बुरबक किस्म का युवक है जो कुल भी अच्छा करने की प्रयास करता है।लेकिन उल्टा हो जाता है । जिसके कारण लोगों भी परेशान हो जाते हैं ।koshixpress

उस परेशानी के कारण पांचो भाईयों को भी हमेशा मुसीबत झेलना पड जाता है । नाटक के पात्रगत भूमिका में मिथुन, सुनीत,मो आतिक, बमबम कुमार, कार्तिक, अमित आनंद, प्रीति,मो०शहंशाह, मो०शहवाज, मो०इमरान हैदर ने बखूबी अपने सशक्त अभिनय से दर्शकों को हंसाने पर मजबूर करता रहा।

नौवहटा की प्रस्तुति ने व्यवस्था पर किया कराया प्रहारkoshixpress

नवरस नाट्य संस्था की प्रस्तुति बोले तो मस्त मंचन ने वर्तमान व्यवस्था पर कई सवाल खरा कर शासन से लेकर प्रशासन तक पर करारा प्रहार किया । नाटक के लेखक व निर्देशक एस०एस०हिमांशु के निर्देशन में प्रस्तुत नाटक में सभी पात्रों ने अपने सशक्त अभिनेता के रूप में जोर दार प्रस्तुति दी।

शासन प्रशासन से लेकर हर क्षेत्र में फैले भ्रष्टाचार के कारण सरकारी योजनाओं में मची लुट खसोट के कारण आम लोगों को इससे हो रही दिक्कतों को बोले तो मस्त नाट्य मंचन की प्रस्तुति से रंगकर्मीयों ने बुराइयों पर करारा चोट किया ।सत्ता पक्ष से लेकर विपक्ष के चेहरे को बेनकाब कर सच्चाई को लोगों के सामने लाने में यह प्रस्तुति कई मायनों में महत्वपूर्ण रही।koshixpress

कला भवन के प्रसाल में बैठे नाट्य मंचन देख रहे लोगों ने पुरी नाटक को गंभीरता के साथ देखने का काम किया । मंच पर गंगा राय,आशीष,सोनी,सुमन ठाकुर,संजय पासवान,अजहर खान, राजू पासवान,मो०जमशाद ,सत्यम हरदीप,एहतेशान,बाल कलाकार संचय जायसवाल,ने सशक्त अभिनेता की तरह अपने अपने पात्र के साथ न्याय करते नजर आये।दोनों ही नाट्य दलों को  संस्था के दारा बुके व प्रतीक चिन्ह भेट कर सम्मानित किया गया ।koshixpress

वहीं दूसरी ओर इस महोत्सव के दौरान पंचकोसी की युवा रंगकर्मी स्वेता कुमारी को इस साल के लिए डाॅ मनोरंजन झा स्मृति सम्मान से सम्मानित किया गया । सम्मान स्वरूप एकीस सौ रूपया नगद एवं प्रतीक चिन्ह के साथ साथ बुके प्रदान किया गया । यह सम्मान डॉ मनोरंजन झा की पत्नी रेणु ज्योति एवं चिकित्सक डॉ के सी झा द्वारा सम्मलित रूप से भेंट की गयी ।koshixpress

कार्यक्रम संयोजक अभय कुमार मनोज के संचालन में आयोजित दो दिवसीय नाट्य समारोह के समापन के मौके पर पूर्व विधायक डॉ आलोक रंजन भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष डॉ रामनरेश सिंह रंग समीक्षक सह नाट्य निर्देशक डॉ दीपक गुप्ता,डॉ गिरधर श्रीवास्तव पुटीश, गंगा नाथ राय,पत्रकार आलोक झा,पत्रकार राजन,सत्य प्रकाश   सहित अन्य मौजूद थे ।