विस्थापितों को मिला स्थायी आश्रय !

2479

विधायक ने किया रामानंद नगर का उदघाटन

koshixpressखगडिया (मुकेश कुमार मिश्र)। बिहार के खगडिया जिले अन्तर्गत परवत्ता।प्रखंड मुख्यालय के सामने शनिवार को गंगा कटाव से विस्थापित रुपौहली गांव के 48  परिवारों को स्थानीय विधायक रामानंद प्रसाद सिंह ने व्यवस्थित बसावट का शुभारंभ किया।इस मौके पर एक सभा का आयोजन किया गया।इस सभा की अध्यक्षता जिला परिषद सदस्य इब्राहिम शाह तथा मंच संचालन पूर्व जिप सदस्य शैलेश सिंह ने किया।मौके पर उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए विधायक ने कहा कि लगभग 40 वर्षों से रुपौहली के विस्थापित परिवार आज तक व्यवस्थित रुप से बसाये जाने की राह देख रहे थे।आज उनका सपना साकार हो रहा है।मौके पर सार्जन आलम ने इस टोले का नाम रामानंदनगर रखने का प्रस्ताव किया।जिसका सभी उपस्थित लोगों ने समर्थन किया।मौके पर सी ओ शिवशंकर गुप्ता,पंचायत समिति प्रमुख,दशरथ दास,मुकेश सिंह,निरंजन यादव समेत सैंकङो ग्रामीण मौजूद थे।

क्या है मामला

प्रखंड में वर्ष 1977 – 78 में गंगा कटाव हुआ और इस कटाव में श्रीरामपुर ठुट्ठी,सिराजपुर,तेमथा,नौरंगा,राका, रुपौहली गांव के हजारों परिवार विस्थापित हुए थे।इसमें से दर्जनों परिवार अभी भी अपने लिये स्थायी आशियाने की चाहत में अपने दोस्तों और रिश्तेदारों की देहरी पर टिके हुए थे।इनमें से परबत्ता पंचायत के रुपौहली गांव के 48  परिवारों को व्यवस्थित रुप से बसाया जाना बाकी था।इसके लिये जिला प्रशासन के द्वारा मौजा परबत्ता इंग्लिश खेसरा 126, 128 तथा 91 में चार एकड़ 62 डिसमिल भूमि को अर्जित किया गया था।ये विस्थापित प्रशासन के द्वारा विधिवत दखल दिलाने बाट जोह रहे थे।इस कार्यक्रम के बाद उम्मीद की जा रही है कि इन विस्थापितों की सभी परेशानियाँ आने वाले समय में खत्म हो जायेंगी।