खगड़िया सांसद की माता सुपुर्द-ए-खाक,उमड़ा जन सैलाब !

5884

बड़ी संख्या में पैतृक बख्तियारपुर ड्योडी आवास पर जनाजे की नबाज में सामिल हुये लोग

सहरसा/सिमरी बख्तियारपुर : खगड़िया सासंद चौधरी महबूब अली केसर की माँ नबाब खानदान की पुत्रबधू 85 वर्षीय रहमत बानो को शुक्रवार को जनाजे की नबाज अदा के साथ ही सुपुर्द-ए-खाक कर दी गई। इस मौके पर इलाके के हज़ारो लोगो की भीड़ जनाजे की नबाज में सामिल हुये। वही क्षेत्र के कई वरीय नेताओ का आना जाना लगा रहा ।सासंद चौधरी महबूब अली केसर,भाई फ़ारूक़ सलाउद्दीन,बेटा युशुफ सलाउद्दीन सहित परिजन मौजूद रहे। पटना में गुरूवार सुबह देहान्त के बाद शव को दफनाने के लिये पैतृक ड्योढ़ी आवास पर रात्रि के लगभग 1 बजे लाया गया। शाम से ही आवास पर लोगो का आना जाना लगा रहा जो देर रात तक जारी रहा। जुम्मे के नमाज के बाद जनाजे की नमाज पढ़ी गयी। जिसमे इलाके के हजारों लोगों की भीड़ उमड़ गयी। जनाजे के विशेष नमाज पढ़ने के बाद पुस्तैनी कब्रगाह में शव को दफनाया गया।koshixpress

कई लोग इस मौके पर मौजूद थे

सुरक्षा की दृष्टी से एसडीओ सुमन प्रसाद साह, डीएसपी अजय नारायण यादव,थानाध्यक्ष उमाकांत कामत, मिथलेश सिंह के अलावा पुलिस बल तैनात थे। वही जनाने में सामिल होने के लिये निरज गुप्ता,चंदन बागची,ओमप्रकाश नारायण,तारानंद सादा,लोजपा नेत्री सरिता पासवान,खुशीलाल भगत, प्रमुख सरिता देवी, अरविन्द सिंह कुशवाहा, मुखिया सुमन कुमार सिंह, चंद्रमणि, पूर्व मुखिया मो साद उद्दीन, पूर्व ज़िप उपाध्यक्ष रितेश रंजन, मो बेलाल, प्रसून कुमार सिंह, मो फिरोज आलम, मो कारों, जेडीयू नेता अंजुम हुसेन, राजद नेता ज़फर आलम, मो हस्सान,मो हेलाल अशरफ, जाप नेता अब्दुल सलाम, सचिन स्वर्णकार , विकास कुमार विक्की के अलावा काफी संख्या में लोग पहुचे थे।