हमें तो अपने गांव को स्मार्ट बनाना है – नीतीश कुमार

2877
सुपौल में चेतना सभा को संबोधित करते मुख्यमंत्री

सुपौल (कुमार गौतम) : मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने केंद्र सरकार की स्मार्ट सिटी योजना के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। मुख्यमंत्री ने सुपौल में आयोजित चेतना सभा में कहा कि केंद्र को देश के चंद शहरों को स्मार्ट सिटी का रूप देना चाहती है, लेकिन हम उनकी तरह 100 स्मार्ट सिटी या बड़े-बड़े मॉल नहीं बनाना चाहते हैं। हमें तो अपने गांव को स्मार्ट बनाना है।koshixpress

मुख्यमंत्री ने कहा कि चुनाव के पूर्व महिलाओं की मांग पर बिहार में शराब बंदी की घोषणा के अनुरूप राज्य में पूर्ण शराब बंदी लागू की गई है। इसके लिए कठोर कानून बनाए गए हैं। शराबबंदी से सरकारी खजाने को नुकसान तो हुआ है, लेकिन बिहारवासियों को भारी लाभ मिला है। शराबबंदी से अपराध का ग्राफ काफी नीचे गया है। हत्या में 23 फीसदी, सड़क दुर्घटना में 21, डकैती में 25, भीषण दंगा में 40 और फिरौती के लिए अपहरण जैसे संज्ञेय वारदातों में 56 प्रतिशत गिरावट आई है।koshixpress

मुख्यमंत्री ने कहा कि पूर्ण शराबबंदी की सफलता के लिए चेतना के साथ ही सक्रियता जरूरी है। अगर कोई अगल-बगल के राज्यों से मंगा रहा है तो ऐसे लोगों को पहले समझाएं। इसके बावजूद वह नहीं मानता है तो उसे जेल भिजवाने में सहयोग करें। कुछ लोग सिर्फ विरोध करने के लिए शराबबंदी का विरोध कर रहे हैं। ऐसे कनफूंकवा लोगों से सावधान रहें।koshixpress

शराबबंदी का अदभुत असर है। बिहार में पूर्ण शराबबंदी को लागू कराने में महिलाओं का व जीविका की दीदीयों का महत्वपूर्ण भूमिका रही है। अब ताड़ी को भी बन्द करेंगे। ताड़ी के बदले नीरा तैयार की जाएगी जो स्वास्थ्य के लिए लाभ दायक है। अब हम सात निश्चय को सफलतापूवर्क लागू करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। बिहार नवजागरण के दौर से गुजर रहा है।koshixpress