चोरों के निशाने पर मंदिर,भगवान को भी है अब सुरक्षा की दरकार !

3755

कोशी प्रमंडलीय मुख्यालय सहरसा के उत्तरी क्षेत्र में अवस्थित मत्स्यगंधा के रक्तकाली मंदिर परिसर में स्थापित शिव मंदिर से चोरों ने भगवान शिव की स्फटिक शिवलिंग की चोरी कर इलाके में सनसनी फैला दी है। रक्तकाली मंदिर मंदिर के पुजारी शशिनाथ झा ने कहा कि प्रतिदिन की भांति मंगलवार की शाम संध्या आरती कर रहे थे इसी दौरान शिव मंदिर में आरती करने जाने के क्रम में देखा कि शिवलिंग अपने स्थान से गायब हैं।koshixpress

चोरी की घटना की सुचना मिलते ही रक्त काली मत्स्यगंधा मंदिर के व्यवस्थापक कुमार हीरा प्रभाकर ने सदर एसडीओ मो० जहांगीर आलम एवं सदर थानाध्यक्ष भाई भरत कुमार को सुचना दिया। जानकारी मिलने के बाद मंदिर पहुंच कर सदर एसडीओ मो जहांगीर आलम ने परिसर का जायजा लेने के बाद कहा कि शाम की संध्या के समय नो इंट्री लागू किया जाएगा।वहीं सदर थाना अध्यक्ष ने कहा कि चोरों को गिरफ्तारी के लिए कारवाई की जा रही है।मंदिर परिसर के सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए व्यवस्थापक ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम करने की मांग की है।

लोगो ने बताया की मंदिर परिसर में सीसीटीवी कैमरा भी लगा हुआ है लेकिन वह काम नही करता ।अगर सीसीटीवी कैमरा काम करता तो  चोरों की गतिविधि कैद हो सकती थी।जानकारी हो कि कुछ वर्ष पूर्व इसी मंदिर परिसर के समीप स्थापित कारु खिरहरी प्रमंडलीय संग्रहालय में चोरों ने कई महत्वपूर्ण अभिलेख सहित बुद्ध की प्रतिमा चोरी कर ली थी। चोरी की वारदात के बाद कई वर्ष तक संग्रहालय बंद कर दिया गया था। जिसे इसी वर्ष कुछ महीनों पूर्व खोला गया। इसके बावजूद मंदिर परिसर में सुरक्षा व्यवस्था भगवान भरोसे ही है |