समीक्षा बैठक में उप मुख्यमंत्री ने पदाधिकारियों को दिए कई निर्देश !

2397

सहरसा : स्थानीय विकास भवन के सभाकक्ष में कोशी प्रमंडल अंतर्गत पथ निर्माण विभाग,भवन निर्माण विभाग एवं पिछड़ा एवं अति पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग के संबंधित पदाधिकारियों के साथ उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने उच्चस्तरीय गहन समीक्षा बैठक की और पदाधिकारियों को निर्देश दिया कि बाढ़ से क्षतिग्रस्त सड़को, पुल पुलियों का मरम्मत तुरंत कराया जाय। और आवागमन व्यवस्थित किया जाय। एन.एच की सड़कें एस.एच. ग्रामीण विकास विभाग की सड़कें जिनका हस्तान्तरण किया गया है इन सबों का मरम्मती प्रोपर ढ़ंग से कराई जाय। यदि संवेदक द्वारा मरम्मत में शिथिलता बरती जाती है उसे डिबारडेड किया जाय। उस पर कार्रवाई किया जाय। उसे ब्लैक लिस्टेड किया जाय। पावर प्रजेन्टेशन के जरिये सड़कों के विकास एवं बन रही सड़कों का मास्टर एक्सल प्लान दिखाया गया।koshixpress

रिपोर्ट के अध्ययन के पश्चात उप मुख्यमंत्री ने कहा कि मधेपुरा की 62 प्रतिशत सड़के खराब है जो एजेंसी डिफालटर है उस पर तुरंत कार्रवाई की जाय। जिस भी रोड में जमीन की समस्या है जिनका जमीन रोड में गया यदि मकान, दुकान है उनका सही-सही मुआवजा आयुक्त द्वारा कमिटी गठन कर किया जायेगा। जिस सड़क का निर्माण होना है, जिस पुल में एप्रोच रोड बनना है उसे शीघ्र बनायें। सभी सड़कों का मरम्मती हेतु संवेदक को दिये हुए आदेश के अनुरूप कराया जाय। 1 साल के लिए संवेदक को 5 लाख रूप्ये सड़कों की मेन्टेनेन्स के लिए दी जाती है। पथ एवं भवन निर्माण विभाग के कोशी प्रमंडल के अधीन विभागीय पथों के स्थिति पर प्रस्तुतीकरण किया गया। माननीय उप मुख्यमंत्री ने कहा जनता से जुड़े हुए हर समस्याओं का समाधान किया जाय।

उन्होंने बैठक में एन.एच. इंडो नेपाल से संबंधित चालू योजनाओं की स्थिति की भी समीक्षा की। सभी जिलाधिकारियों ने अपने अपने क्षेत्रों के पथ निर्माण विभाग के द्वारा कराये जा रहे सड़क निर्माण एवं छात्रवृति वितरण एवं भवन निर्माण द्वारा कराये जा रहे भवनों के निर्माण की जानकारी दी। और विभाग के कार्यपालक अभियंता एवं संवेदक द्वारा अनावश्यक देरी की भी बातों को रखा। 2 शहरों को जोड़ने वाली सड़कों के निर्माण में तेजी लाने का निर्देश दिया। और सड़क का रख रखाव सही ढ़ंग से अभियंता करायें।koshixpress

सरकार के सात निश्चय

श्री यादव ने सरकार के सात निश्चय के तहत बन रहे अभियंत्रण महाविद्यालय, पॉलटेकनिक कालेज आदि की भी समीक्षा की और तेजी से कार्य पूरा कराने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि संवादहीनता नहीं होनी चाहिए। किसी भी विकास के कार्य को तेजी से पूरा किया जाय। उसमें जो भी समस्या आती है उसे दूर किया जायेगा। बिहार के विकास के लिए मास्टर प्लान 2035 बनाया गया है जो एक लाख करोड़ रूप्ये का है। सड़कों के चौड़ीकरण, पुल पुलियों का निर्माण, भारी वाहनों के आवागमन हेतु बनायी जा रही सड़को भविष्य को देखते हुए इस प्लान को बनाया गया है। राजधानी पहूँचने के लिए कम समय सड़क मार्ग से लगे इसके लिए हमारी कोशिश जारी है। इसमें नीतिन गडकरी जी ने सहयोग प्रदान करने का आश्वासन दिया है।

कोशी का विकास महत्वपूर्ण 

कोशी के इलाके का विकास अति महत्वपूर्ण है। मैंने इसका निरीक्षण किया है। कई रोडों को बनाने की आवश्यकता है। जिसे बनाने के लिए निदेश दिया गया। बाढ़ से जो रोड क्षतिग्रस्त हो गया है उसे ठीक करने का निर्देश दिया है। हमारा कोशिश है सड़क निर्माण की जितनी भी योजनाएं ली गई है उसे पूरा किया जायेगा। लोगों का मांग है कि सड़कों का अपग्रेडेशन हो उसपर भी कार्रवाई की जाएगी। एन.एच., एस.एच, 102, 107 की स्थिति किसी से छिपी हुई नहीं है। 70 से 80 करोड़ रूप्ये भारत सरकार द्वारा दी जाती है जो सफीसिएन्ट नहीं है। भारत सरकार से और राशि की मांग की गई है। मैंने बिहार की सड़कों पर जो फिजुल खर्ची हो रही थी उसे बचाने का काम किया है। उस राशि से नई सड़कों का निर्माण होगा। पहले आर.ओ.बी. के तहत सताईस योजना स्वीकृत थी जिसे मैंने बढ़ाकर 53 कराया। जिसमें सैतालीस योजनाएं स्वीकृत कर ली गई है। उसका डीपीआर तैयार हो रहा है। 6 जो लंबित है उसपर रिभ्यु करने का केन्द्र को प्रस्ताव दिया हूँ। इसके लिए लगातार प्रमंडल का दौड़ा कर रहा हूँ और पदाधिकारियों से विचार विमर्श एवं कार्यकर्ता से एवं जनता से फीडबैक ले रहा हुं। जिससे बिहार का विकास हो सके। कोशी की जनता को कार्यकर्ता को धन्यवाद देता हूँ। जिन्होंने जन सभा को रैला बनाने का काम किया। हमलोग मिलकर समस्या का समाधान करेंगें। बिहार की विकास की जिम्मेदारी हेतु हमेशा तैयार रहता हूँ।

बैठक में बाढ़ से प्रभावित परिवारों का सर्वे कर जी.आर. वितरण कराने का भी निर्देश दिया। माननीय उप मुख्यमंत्री ने कहा गुणवतापूर्ण सड़कों, भवनों का निर्माण कराया जाय। छात्रवृति का वितरण ससमय कराया जाय। स्कूल भवनों के चाहार दीवारी निर्माण, जर्जर भवनों स्कुल अस्पताल, सरकारी भवन का मरम्मती प्राथमिकता आधार पर करायें। जिलाधिकारी इस पर विशेष ध्यान दें। इसके लिए जो भवन निर्माण में जो राशि है उसका सदुपयोग किया जाय। भवन जर्जर न रहे।

बैठक में कोशी प्रमंडल आयुक्त कुंवर जंग बहादुर ने सभी आगत मंत्रियों का स्वागत किया और सभा के अंत में धन्यवाद ज्ञापन प्रभारी जिला पदाधिकारी दारोगा प्रसाद यादव ने की। बैठक में सुपौल के जिला पदाधिकारी वैद्यनाथ यादव ने अपने क्षेत्र की समस्याओं से अवगत कराया वही मधेपुरा जिलाधिकारी मुहम्मद सुहैल अंसारी ने विस्तार पूर्वक मधेपुरा जिला के सड़क एवं भवन निर्माण की जानकारी उप मुख्यमंत्री को दी। और कई सड़कों के निर्माण के लिए राशि की मांग की।

आपदा मंत्री चन्द्रशेखर ने भी कई सड़कों के निर्माण/मरम्मत के बारे में सुझाव दिया। अल्प संख्यक कल्याण मंत्री अब्दूल गफूर ने बनगांव के बाहर-बाहर बनगांव से बिरौल बाई पास पथ बनाने का अनुरोध किया।koshixpress

मौजूद अधिकारी 

बैठक में सभी विभागों के तकनिकी पदाधिकारी समेत आयुक्त के सचिव विनोद कुमार सिंह, उप निदेशक सूचना एवं जनसम्पर्क बिन्दुसार मंडल, उप निदेशक कल्याण समेत जिला भूअर्जन पदाधिकारी जर्नादन कुमार समेत डी.डब्लू.ओ. आशुतोश शरण मौजूद थे।

चेक दिया 

उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने श्याम सुन्दर तांती के परिजन को 4012500(चार बारह हजार पांच सौ) रूपये का चेक प्रदान कर शोक संतप्त परिवार से मिले। और उन्हें संत्वना दी और श्याम सुन्दर तांती के तस्वीर पर माल्यार्पण किया। साथ में अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री अब्दुल गफूर, विधायक अरूण कुमार, जिलाध्यक्ष राजद जफर आलम, जिला परिषद उपाध्यक्ष छत्री यादव,पूर्व जिलाध्यक्ष मो० ताहीर,रंजीत यादव समेत अन्य गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे।

शिविर का उद्घाटन 

कहरा प्रखंड अन्तर्गत भर्राही गांव में निरंकारी मिशन के रक्तदान शिविर का उदघाटन किया। उदघाटन के मौके पर उन्होंने कहा रक्तदान महादान है यह किसी को जीवन प्रदान करता है। लोगों को रक्तदान करना चाहिए। उक्त अवसर पर अब्दुल गफुर, जफर आलम, छत्री यादव एवं अन्य गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे। रक्तदान शिविर का आयोजन ब्लड बैंक सहरसा द्वारा किया गया था। जिसमें सिविल सर्जन समेत संबंधित डाक्टर मौजूद थे। बड़ी संख्या में ग्रामीण मौजूद थे।