कैशलेस के नाम पर ब्रेन लेस कहानी चल रही है – पप्पू यादव !

2671

kx डेस्क : रविवार को पटना में आयोजित संवाददाता सम्‍मेलन में जन अधिकार पार्टी के संरक्षक सह मधेपुरा सांसद राजेश रंजन उर्फ़ पप्पू यादव नेबिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार पर प्रहार करते हुए कहा की अगर CM सच में बेनामी संपत्ति को बाहर लाने चाहते हैं तो पहले लालू यादव व उनके परिवार,अपने विधायक और सांसद के साथ – साथ अपने अधिकारियों और अपने नौ रत्‍नों की संपत्ति का जांच कराएं। तेजस्‍वी यादव,तेजप्रताप यादव,ललन सिंह,आरसीपी सिंह,संजय सिंह,श्रवण कुमार, नीरज सिंह,संजय झा,लालकेश्‍वर सिंह,ललन श्राफ,राधाचरण सेठ,सुभाष यादव,अबु दोजाना के अलावा बालू माफिया,शराब माफिया,एजुकेशन माफिया और मेडिकल माफिया की भी संपत्ति का जांच कराने की बात कहे। साथ ही भाजपा द्वारा खरीदे गए जमीन की भी जांच कराएं ।

सांसद ने आगे कहा की नीतीश कुमार जी मेरी भी संपत्ति का जांच कराएं और अगर वे ऐसा नहीं कर सकते तो बेनामी संपत्ति के नाम पर लोगों का आई वॉश करना बंद करें। आज कैशलेस के नाम पर ब्रेन लेस कहानी चल रही है,आपका भी हाल वही होगा।

सांसद ने महामहीम राष्‍ट्रपति और प्रधानमंत्री से सभी राजनीतिक पार्टियों को आरटीआई में लाने के लिए कानून बनाएं जाने कि मांग किया । उन्होंने राजनीतिक पार्टियों के खाते की भी मॉनिटिरिंग करने सहित इनकम टैक्‍स की सीडीएसई और सीबीआई से जांच कराने की बात कहे।

सांसद ने कहा कि केंद्र सरकार ने जाली नोट,कालाधन और नकदबंदी के नाम पर जनता को तबाह कर दिया है। सरकार ने गरीब आदमी को लाइन में खड़ा कर दिया है और अमीरों को कालाधन को सफेद बनाने की पूरी छूट दे दी है। सुप्रीम कोर्ट ने नोटबंदी पर केंद्र सरकार से नौ सवाल पूछा है। सरकार को इसका जवाब देना चाहिए।