STF की कार्यवाही ग्रामीणों की जुबानी : गांव में सन्नाटा,कई घरों में नही जले चुल्हे !

2734

इस करवाई से दहशत में ग्रामीण

STF और अपराधी गिरोह के बीच शुक्रवार को अहले सुबह सहरसा जिले के सलखुआ थाना अंतर्गत के चिड़ैया ओपी के बेलाही गांव में एसटीएफ और रामानंद पहलवान गिरोह के बीच हुई मुठभेड़ के बाद से सुबह से दिन भर बेलाही गांव में सन्नाटा पसरा रहा।koshixpress

घटना के बाद से गांव में भय की स्थिति इस कदर है कि शुक्रवार अहले सुबह से देर शाम तक गांव के किसी भी घर में चूल्हा नहीं जला|घटना के सम्बन्ध में गांव वालों ने बताया कि रात करीब एक बजे एसटीएफ की भारी भरकम टीम गांव में पहुंची और गांव वालों को घर में घुस-घुस कर तलाशी लेने लगी|बेलहा गांव के ग्रामीणों ने दर्द भरे स्वर में बताया कि एसटीएफ की टीम के जवानों ने हैवानियत की प्रकाष्ठा पार कर दी|koshixpress

ग्रामीण विलाश यादव ने रुंधे गले से बताया कि रात में हम घर में सो रगे थे अचानक एसटीएफ के जवान घर का दरवाजा तोड़ते हुए घर घुसे और बिना कुछ बोले सोचे डंडों से पिटाई शुरू कर दी|koshixpress

वही मुरारी यादव, बीजो यादव, रविश यादव, राजेश यादव आदि ने भी बताया कि एसटीएफ के जवानों ने बर्बरता की सीमा पार करते हुए जो मिला उससे मारने लगे.इसके साथ ही एसटीएफ की कोप का शिकार गांव की महिलाये भी हुई|koshixpress

ग्रामीण उदय यादव की पत्नी प्रमिला देवी ने रोते-रोते बताया कि हो बाबू, खूब मार लैके.प्रमिला देवी ने बताया कि लाठी-डंडा से उसके पति और उसकी खूब पिटाई की और घर भी तोड़ दिया|koshixpress

तटबन्ध के अंदर चिड़ैया ओपी अंतर्गत बेलाही गांव की महिला-पुरुष ने बताया कि ताउम्र इस तरह की दुर्दांत कार्यवाई को वह नही भूलेंगी|ग्रामीण अंदुला देवी, प्रसादी यादव, शिबू यादव, श्रीदेव यादव आदि ने बताया कि गांव के सभी लोगो को अपराधियो की धड़-पकड़ के नाम पर निशाना बनाया गया जिसके वजह से सारे गांव वाले डर और भयभीत है|koshixpress

उन्होंने बताया कि एक-दो व्यक्ति के नाम पर पूरे गांव को सजा देना कहाँ का इंसाफ है.शुक्रवार अहले सुबह हुई कार्यवाई के बाद से ग्रामीण एकजुट हो बड़े विरोध की तैयारी कर रहे है|